Mast Nazron Se Allah Bachaaye

Maine masoom baharo me tumhe dekha hai
Maine pur noor sitaro me tumhe dekha hai
Mere mehboob teri parda nashini ki qasam
Maine ashko ki qataroo me tumhe dekha hai

मैंने मासूम बहारो में तुम्हे देखा है
मैंने पुर नूर सितारों में तुम्हे देखा है
मेरे मेहबूब तेरी पर्दा नाशिनी की क़सम
मैंने अश्को की क़तारो में तुम्हे देखा है


Koi bhi waqt ho has kar gujaar leta hoon
kheeja ke doar mein aid-e-bahaar leta hoon
gullo se rang sitaaro se roshni le kar
jamaale yaar ka nakasha utaar leta hoon

कोई भी वक़्त हो हस कर गुजार लेता हूँ
खीजा के दौर में अहद-इ-बहार लेता हूँ
गुल्लो से रंग सितारों से रौशनी ले कर
जमाले यार का नकशा उतार लेता हूँ


ye jo dewaane se do char nazar aate hai
in mein kuch sahib-e-aasrar nazar aate hai
teri mehfil ka bharam rakhte hai so jaate hai
warna ye log to be-daar nazar aate hai

ये जो दीवाने से दो चार नज़र आते है
इन में कुछ साहिब-इ-असरार नज़र आते है
तेरी महफ़िल का भरम रखते है सो जाते है
वरना ये लोग तो बे-दार नज़र आते है

mere daamin mein to kaanto ke siva kuch bhi nahi
aap phoole ke kharidaar nazar aate hai 
hashar mein kon gawahi meri dega sagar 
sab tumare hi tarafdaar nazar aate hai

मेरे दामिन में तो कांटो के शिव कुछ भी नहीं
आप फूलो के खरीदार नज़र आते है
हशर में कौन गवाही मेरी देगा सागर
सब तुम्हारे ही तरफ़दार नज़र आते है


main fasaane talash karta hoon
aap kunwaan dund kar laaye
aao waada kasho ki basti se
chand insaan dund kar laaye

मैं फ़साने तलाश करता हूँ
आप कुनवान ढूंढ कर लाये
आओ वादा कशो की बस्ती से
चाँद इंसान ढूंढ कर लाये


aaj ruthe huye saajan ko bahut yaad kiya
aaaaaa aaj, aaj ruthe huye saajan ko bahut yaad kiya
apne ujde huye gulshan ko bahut yaad kiya
jab kabhi gardishe takdeer ne ghehra hai hume
ghesuye yaar ki ulljan ko bahut yaad kiyaa

आज रूठे हुए साजन को बहुत याद किया
अपने उजड़े हुए गुलशन को बहुत याद किया
जब कभी गर्दिशे तकदीर ने घेरा है हमे
गेसुए यार की उल्जन को बहुत याद किया


Umer jalwon mein basar ho yeh zaruri to nahi
Her shab e gham ki sahr ho yeh zaruri to nahi
Neend to dard ke bistar pe bhi aa sakti hai
teri aaghosh mein sar ho yeh zaruri to nahi

उम्र जलवों में बसर हो ये ज़रूरी तो नहीं
हर शब्-इ-ग़म की सहर हो ये ज़रूरी तो नहीं
नींद तो दर्द के बिस्तर पे भी आ सकती है
तेरी आग़ोश में सर हो ये ज़रूरी तो नहीं


Aag ko khail patangon ne samajh rakh hai
Sab ko anjam ka dar ho yeh zaruri to nahi

Shaikh karta hai jo masjid mein khuda ko sajde
Iske sajdoon mein asar ho yeh zauri to nahi

आग को खेल पतंगों ने समझ रखा है
सब को अंजाम  का डर हो ये ज़रूरी तो नहीं
शैख़ करता है जो मस्जिद में खुदा को सजदे
इसके सजदों में असर हो ये ज़रूरी तो नहीं


Sub ki saqi pe nazar ho yeh zaruri hai magar
Sub pe saqi ki nazar ho yeh zaruri to nahi

सब की साकी पे नज़र हो ये ज़रूरी तो नहीं 
सब पे साकी की nazar हो ये ज़रूरी तो नहीं 

...ae

Mast Nazron Se, Allah, Allah Bachaaye
Mast Nazron Se, Allah, Allah Bachaaye

मस्त नज़रों से, अल्लाह , अल्लाह बचाए
मस्त नज़रों से, अल्लाह , अल्लाह बचाए


Mast Nazron Se, Allah, Allah Bachaaye
Mast Nazron Se, Allah, Allah Bachaaye

मस्त नज़रों से, अल्लाह , अल्लाह बचाए
मस्त नज़रों से, अल्लाह , अल्लाह बचाए

Allah bachaaye, Mast nazron se, Allah, Allah Bachaaye
Allah bachaaye, Mast nazron se, Allah, Allah Bachaaye

अल्लाह बचाए, मस्त नज़रों से, अल्लाह , अल्लाह बचाए
अल्लाह बचाए, मस्त नज़रों से, अल्लाह , अल्लाह बचाए


Kare kya koi , woh jo aaye yka yak
nighao ko roku , ya dil ko sabhalu

करे क्या कोई, वो जो आये यका-यक

निगाहो को रोकू, या दिल को सभालु 


Allah Bachaaye,
Mast Nazron Se, Allah, Allah Bachaaye
Mast Nazron Se, Allah, Allah Bachaaye

अल्लाह बचाए, 
मस्त नज़रों से, अल्लाह , अल्लाह बचाए
मस्त नज़रों से, अल्लाह , अल्लाह बचाए


hey! naashe ko bulaayo mera imaan sabhale

हे! नाशे को बुलाओ मेरा ईमान संभाले

Allah Bachaaye,
Mast Nazron Se, Allah, Allah Bachaaye
Mast Nazron Se, Allah, Allah Bachaaye

अल्लाह बचाए, 
मस्त नज़रों से, अल्लाह , अल्लाह बचाए
मस्त नज़रों से, अल्लाह , अल्लाह बचाए


Khuda bachayee teri must must ankhoon se
Farishta ho to behak jayee Aadmi kya hai bas!

खुदा बचाये तेरी मस्त मस्त आंखों से फरिश्ता हो तो बहक जाये आदमी क्या है बस!


Allah Bachaaye,
Mast Nazron Se, Allah, Allah Bachaaye
Mast Nazron Se, Allah, Allah Bachaaye

अल्लाह बचाए, 
मस्त नज़रों से, अल्लाह , अल्लाह बचाए
मस्त नज़रों से, अल्लाह , अल्लाह बचाए


tu log mye ishq ka keena aaye
bhawro ko bhi jeene ka kareena aaye
agar tu naaz se julaf bakhere saaki
sawaan ki ghataoo ko paseena aaye


तू लोग मये इश्क़ का कीना आये भवरो को भी जीने का करीना आये
अगर तू नाज़ से जुलफ बखेरे साकी सावन की घटाओ को पसीना आये


Allah Bachaaye,
Mast Nazron Se, Allah, Allah Bachaaye
Mast Nazron Se....

अल्लाह बचाए, 
मस्त नज़रों से, अल्लाह , अल्लाह बचाए
मस्त नज़रों से, अल्लाह , अल्लाह बचाए


Allah Bachaaye, Mast nazron se Allah, Allah Bachaaye
Allah Bachaaye, Mast nazron se Allah, Allah Bachaaye

अल्लाह बचाए, मस्त नज़रों से, अल्लाह , अल्लाह बचाए
अल्लाह बचाए, मस्त नज़रों से, अल्लाह , अल्लाह बचाए


Mast Nazron Se, Allah, Allah Bachaayeeeeeee

मस्त नज़रों से, अल्लाह , अल्लाह बचाए


Mast Nazron Se, Allah, Allah Bachaaye, Mahjamalon se Allah bachaayee
Mast Nazron Se, Allah, Allah Bachaaye, Mahjamalon se Allah bachaayee

अल्लाह बचाए, मस्त नज़रों से, अल्लाह , अल्लाह बचाए
अल्लाह बचाए, मस्त नज़रों से, अल्लाह , अल्लाह बचाए


Har bala sar peh aa jayee lekin Husan waloon se Allah bachaaye
Har bala sar peh aa jayee lekin Husan waloon se Allah bachaaye

हर बला सर पे जाए  लेकिन हुसन वालों से  बचाए 
हर बला सर पे जाए  लेकिन हुसन वालों से  बचाए 

O God save us from the intoxicated glances! 
O God save us from the moon-faced ones!
Let any affliction come upon us [but] 

God save us from the pretty ones.



Allah! bachaaye, Allah! bachaaye, Allah! bachaayeeee

अल्लाह बचाए, अल्लाह! बचाए, अल्लाह बचाए,


Har bala sar peh aa jayee lekin Husan waloon se Allah bachaaye

हर बला सर पे जाए लेकिन हुसन  वालों से  बचाए 

aaaaa....


Raag Darbari....(super)


sa re ni sa re sa...
sa ga ma pa da ni....
sa sa ma ga pa da ni.....
.....

Har bala sar peh aa jayee lekin Husan waloon se Allah bachaaye

हर बला सर पे जाए लेकिन हुसन  वालों से  बचाए 

Inki maasumit par na jana...

Inki maasumit par na jana...

इनकी मासूमित पर न जाना...

इनकी मासूमित पर न जाना...


Inki maasumit par na jana,
Inke dhokay mein hargiz na aana
Loot laitay hain yeah muskara kar,
Inki chaalon se Allah bachaaye

इनकी मासूमित पर न जाना, इनके धोखे में हरगिज़ न आना लूट लेते हैं ये मुस्करा कर, इनकी चालों से अल्लाह बचाये

Don’t let their innocence fool you; 
don’t let them make you a fool
they rob with just a smile, 

O God save us from their spells!

hey! loot lete hai , ye loot lete hai...

हैं! लूट लेते हैं, ये लूट लेते हैं...

ye loot lete hai...

chalna sambhlna kar ae! dil-e-nadan abh Zara
yeh loot laite hain
ye loot lete hai...

लूट लेते हैं
चलना संभल कर ए-दिल-नादान अब ज़रा
ये लूट लेते हैं
ये लूट लेते हैं...


Jhalak Rukh ke dekha kar Muskra kar yeah lout latin hain
Nighoon Sa nighoon ko mila kar yeh lout latin hain
Yeh achi Parda Dari Hai Yeh achi Dil nawazi hain
Hasa kar yeh lot latin hian aur Roula Kar yeh loot latin hain

झलक रुख की दिखा कर मुस्कुरा कर ये लूट लेते है 
निगाहो से निगाहो को मिला कर ये लूट लेते है 
ये अच्छी पर्दा दारी है ये अच्छी दिल नवाज़ी है 

हसा कर लूट लेते है रुला कर  ये लूट लेते है 



ye loot lete hai...

ये लूट लेते हैं...

Mohulla hai Hasseno ka Kazaqo ke Basti
ye loot lete hai...

मोहल्ला है हसीनो का कज़ाकों की बस्ती है 
ये लूट लेते हैं...

koi khoye huye osaan chala jaata hai
koi dil mein liye armaan chala jaata hai
husan waalo se ye keh do ke na nikle bahir
dekhne waalo ka imaan chala jaata hai 

कोई खोये हुए ओसान चला  जाता है 
कोई दिल में लिए अरमान चला जाता है हुसन वालो से ये कह दो के न निकले बाहिर देखने वालो का ईमान चला जाता है


ye loot lete hai...
ye loot lete hai...
ye loot lete hai...

ये लूट लेते हैं...
ये लूट लेते हैं...
ये लूट लेते हैं...
ये लूट लेते हैं...


aaaaa ye loot lete hai...
aaaaa ye loot lete hai...

ye loot lete hai...

ये लूट लेते हैं...
ये लूट लेते हैं...

ये लूट लेते हैं...

(sargam).....
....


sa sa sa

ye loot lete hai...

ये लूट लेते हैं...


ye loot lete hai
Inki chaalon se Allah bachaaye

ये लूट लेते हैं...
इनकी चालों से अल्लाह बचाये


Bholi Surat Hai Baatein Hein Bholi,
Muh Mein Kuch Hai Magar Dil Mein Kuch Hai
Laakh Chehra Shi Chaand Jaisa,
Dil Ke Kalon Se Allah Bachaaye

भोली सूरत है बातें है भोली, मुँह में कुछ है मगर दिल में कुछ है लाख चेहरा सही चाँद जैसा, दिल के कालो से अल्लाह बचाये

Laakh Chehra Shi Chaand Jaisa,
Dil Ke Kalon Se Allah Bachaaye

Laakh Chehra Shi Chaand Jaisa,
Dil Ke Kalon Se Allah Bachaaye

Dil Ke Kalon Se Allah Bachaayeeee

Innocent appearence and innocuous talk, 
but there is a difference between what they say and what they mean
though their face is like that of moon, 

O God save us from the schemes of their hearts!


Dil Mein Hai Khuwahish E Hoor O Jannat
Aur Zahir Mein Shouq E Ibadat,
Bas Hamein Shaikh Ji Aap Jaise
Allah Waloon Say Allah Bachaaye

Bas Hamein Shaikh Ji Aap Jaise
Allah Waloon Say Allah Bachaaye

In the hearts there is a desire for beautiful companions in heaven, 
but they show their love of prayers [to the world].
Now, from the likes of the abstinent, 

O God save us from these Godly ones!


Inki Fidrat Mein Hai Bewafai
Janti Hai Yeh Sari Khudai
Ache Achon Ko Daite Hein Dhoka
Bhole Bhaloon Se Allah Bachaaye

In their nature is infielity, 
it is known by all and sundry
they beguile even the smart ones, 

O God save us from the innocuous ones!

ae! Mast nazron say Allah bachaaye Mahjamalon say Allah bachaaye